ऐसे कीजिये प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के लिए अप्लाई और लिस्ट चेक।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana: प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई-प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना) के तहत रबी फसलों का बीमा कराने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर है। यदि आप प्राकृतिक आपदाओं के कारण कृषि पर होने वाले जोखिम को कम करना चाहते हैं, तो इससे पहले आवेदन करें। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

ऐसे कीजिये प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के लिए अप्लाई और लिस्ट चेक।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

पीएम नरेंद्र मोदी ने किसानों को सीधी सहायता प्रदान करने के लिए दिसंबर 2018 में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की। इससे पहले कभी भी किसानों को किसी भी सरकार से सीधे उनके बैंक खातों में नकद सहायता नहीं मिली। बीजेपी को इसका चुनावी फायदा भी मिला। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

संयोग से 10वीं किश्त ऐसे समय जा रही है जब पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक आंदोलन शुरू हो गया है और किसानों का आंदोलन जारी है। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ कौन नहीं ले सकता

  • यदि आप पूर्व या वर्तमान में संवैधानिक पद के धारक हैं तो आपको धन की प्राप्ति नहीं होगी।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • मंत्री, पूर्व मंत्री, महापौर, विधायक, एमएलसी, सांसद और या जिला पंचायत अध्यक्ष को पैसा नहीं मिलेगा  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • केंद्र या राज्य सरकार के अधिकारी इसके लिए पात्र नहीं होंगे।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • कृषि पेशेवरों, डॉक्टरों, इंजीनियरों, सीए, वकीलों, वास्तुकारों को लाभ नहीं मिलेगा।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • आयकर का भुगतान करने वाले किसान इस लाभ से वंचित रहेंगे।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए जल्द आवेदन करें

जिन लोगों ने अब तक इस योजना के तहत आवेदन नहीं किया है वे भी आवेदन कर सकते हैं। क्योंकि इसमें आवेदन का विकल्प खुला होता है। आप खुद ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अधिकारियों को सलाह दी जाती है कि आवेदन करते समय फॉर्म को पूरी तरह से भरें।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

बैंक खाता विवरण भरते समय IFSC कोड ठीक से भरें। वही खाता संख्या दर्ज करें जो वर्तमान स्थिति में है। मोबाइल नंबर दें। खसरा नंबर और अकाउंट नंबर दें।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई-प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना) के तहत रबी फसलों का बीमा कराने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर है। यदि आप प्राकृतिक आपदाओं के कारण कृषि पर होने वाले जोखिम को कम करना चाहते हैं, तो इससे पहले आवेदन करें।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

उसके बाद आप चाहकर भी बीमा नहीं करा पाएंगे। बीमा कराने से पहले आपके मन में यह सवाल भी आएगा कि कितना प्रीमियम देना होगा और इसके बदले में फसल खराब होने पर कितना क्लेम मिल सकता है. इस सवाल का जवाब हम आपको दे रहे हैं।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

हम आपको बता रहे हैं कि प्रीमियम जानने का सबसे आसान तरीका क्या है? सबसे पहले योजना की आधिकारिक साइट (https://pmfby.gov.in/) पर जाएं। वहां आपको Insurance Premium Calculator नाम का एक कॉलम मिलेगा, उस पर क्लिक करें।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

मौसम, वर्ष, योजना, राज्य, जिला और फसल का विवरण भरने के बाद, उस पर क्लिक करें, आपका प्रीमियम और दावा राशि सामने आ जाएगी।  Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

 Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana में प्रीमियम कितना है

केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक ज्यादातर फसलों पर किसानों को कुल प्रीमियम का 1.5 से 2 फीसदी ही चुकाना होता है. कुछ व्यावसायिक फसलों के लिए केवल 5 प्रतिशत प्रीमियम लिया जाता है। बाकी प्रीमियम राशि केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा एक साथ जमा की जाती है। हरियाणा में बागवानी फसलों के लिए अलग से मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना संचालित की जा रही है।

 Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana में  प्रीमियम राशि कौन तय करता है

केंद्र सरकार के मुताबिक, प्रीमियम की राशि राज्यों और जिलों के हिसाब से अलग-अलग होती है. प्रीमियम की राशि का निर्धारण जिला तकनीकी समिति की रिपोर्ट के आधार पर किया जाता है। इस समिति में जिलाधिकारी, कृषि अधिकारी, मौसम विभाग के प्रतिनिधि, किसान नेता और बीमा कंपनियों के अधिकारी शामिल हैं. अपनी रिपोर्ट के आधार पर कंपनियां प्रीमियम तय करती हैं। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

कहां कितना प्रीमियम?

यदि आपने मध्य प्रदेश के सीहोर में गेहूं की खेती की है और फसल बीमा योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको 600 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से प्रीमियम देना होगा Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana शेष 2360 रुपये की राशि केंद्र और राज्य सरकार द्वारा एक साथ दी जाएगी। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

इस प्रीमियम पर आप एक हेक्टेयर गेहूं के लिए अधिकतम 40,000 रुपये का क्लेम कर सकते हैं। यूपी के बिजनौर में अगर उसी खेत का फसल बीमा कराया जाता है तो किसान को 998.27 रुपये देने होंगे. जबकि सरकार 2162.91 रुपये देगी। इस पर फसल खराब होने पर 66,551 रुपये का क्लेम मिलेगा। इसी तरह, एक ही फसल के लिए अलग-अलग जिलों में बीमा प्रीमियम अलग-अलग होगा। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

टिप्पणियाँ